Thursday, April 7, 2016

Sharing a Mohammed Rafi song with you from SoundHound

I just found this song using SoundHound.


Ishwar Allah Tere Naam
by
Mohammed Rafi
on
Legendary
Open in
SoundHound
>
View Online >
© SoundHound Inc. 2016
SoundHound includes the world's fastest music recognition - now unlimited - plus singing and humming recognition, lyrics, artist info and instant voice search. Click here to download SoundHound or learn more.

Wednesday, April 6, 2016

jeena yahaa marana yahaa





जीना यहाँ मरना यहाँ
इसके सिवा जाना कहाँ
जी चाहे जब हमको आवाज़ दो
हम हैं वहीं हम थे जहाँ
जीना यहाँ मरना यहाँ ...
कल खेल में हम हों न हों
गर्दिश में तारे रहेंगे सदा
भूलोगे तुम, भूलेंगे वो
पर हम तुम्हारे रहेंगे सदा
होंगे यहीं अपने निशाँ
इसके सिवा जाना कहाँ
जीना यहाँ मरना यहाँ ...
ये मेरा गीत जीवन संगीत
कल भी कोई दोहरायेगा
जग को हँसाने बहरूपिया
रूप बदल फिर आयेगा
स्वर्ग यहीं नर्क यहाँ
इसके सिवा जाना कहाँ
जीना यहाँ मरना यहाँ ...

tum pukar lo





तुम पुकार लो, तुम्हारा इन्तज़ार है,
तुम पुकार लो
ख़्वाब चुन रही है रात, बेक़रार है
तुम्हारा इन्तज़ार है, तुम पुकार लो
होंठ पे लिये हुए दिल की बात हम
जागते रहेंगे और कितनी रात हम
मुक़्तसर सी बात है तुम से प्यार है
तुम्हारा इन्तज़ार है, तुम पुकार लो
दिल बहल तो जायेगा इस ख़याल से
हाल मिल गया तुम्हारा अपने हाल से
रात ये क़रार की बेक़रार है
तुम्हारा इन्तज़ार है, तुम पुकार लो

rahe na rahe hum




रहें ना रहें हम, महका करेंगे
बन के कली, बन के सबा, बाग़े वफ़ा में ...
मौसम कोई हो इस चमन में
रंग बनके रहेंगे इन फ़िज़ा में
चाहत की खुशबू, यूँ ही ज़ुल्फ़ों
से उड़ेगी, खिज़ायों या बहारें
यूँही झूमते, युहीँ झूमते और
खिलते रहेंगे, बन के कली बन के सबा बाग़ें वफ़ा में
रहें ना रहें हम ...
खोये हम ऐसे क्या है मिलना
क्या बिछड़ना नहीं है, याद हमको
गुंचे में दिल के जब से आये
सिर्फ़ दिल की ज़मीं है, याद हमको
इसी सरज़मीं, इसी सरज़मीं पे
हम तो रहेंगे, बन के कली बन के सबा बाग़े वफ़ा में
रहें ना रहें हम ...
जब हम न होंगे तब हमारी
खाक पे तुम रुकोगे चलते चलते
अश्कों से भीगी चांदनी में
इक सदा सी सुनोगे चलते चलते
वहीं पे कहीं, वहीं पे कहीं हम
तुमसे मिलेंगे, बन के कली बन के सबा बाग़े वफ़ा में ...
रहें ना रहें हम, महका करेंगे ...
Duet Version
सुमन:
है ख़्हूबसूरत ये नज़ारे
ये बहारें हमारे दम-क़दम से
रफ़ी:
ज़िंदा हुई है फिर जहाँ में
आज इश्क़-ओ-वफ़ा की रस्म हम से
दोनों:
यूँही इस चमन, यूँही इस चमन की
ज़ीनत रहेंगे, बन के कली बन के सबा बाग़-ए-वफ़ा में
रहें ना रहें हम ...

ye kaun aaya




ये कौन आया, रोशन हो गई महफ़िल किसके नाम से
मेरे घर में जैसे सूरज निकल है शाम से
ये कौन आया
यादें हैं कुछ आई सी, या किरनें लहराई सी
दिल में सोए गीतों ने, ली है फिर अंगड़ाई सी
अर्मानों की मदिरा छलके, अँखियों के जाम से
ये कौन आया
क्या कहिए इस आने को, आया है तरसाने को
देखा उसने हँस हँस के, हर अपने बेगाने को
लेकिन कितना बेपर्वाह है, मेरे ही सलाम से
ये कौन आया

ham jab simat ke aapakii




म : ओ
आ : हम जब सिमट के आपकी बाँहों में आ गये -२
लाखों हसीन ख़ाब निगाहों में आ गये
हम जब सिमट के आपकी बाँहों में आ गये -२
म : आ
आ : ख़ुश्बू चमन को छोड़ के साँसों में घुल गई -२
लहरा के अपने आप जवाँ ज़ुल्फ़ खुल गई
हम अपनी दिल पसंद पनाहों में आ गये
हम जब सिमट के आपकी बाँहों में आ गये
म : लाखों हसीन ख़ाब निगाहों में आ गये
आ : हम जब सिमट के आपकी बाँहों में आ गये
म : कह दी है दिल की बात नज़ारों के सामने -२
इक़रार कर लिया है बहारों के सामने
दोनों ज़हान आज गवाहों में आ गये
आ : हम जब सिमट के आपकी बाँहों में आ गये
म : लाखों हसीन ख़ाब निगाहों में आ गये
आ : हम जब सिमट के आपकी बाँहों में आ गये
आ : मस्ती भरी घटाओं की परछाइयों तले
दो : मस्ती भरी घटाओं की परछाइयों तले
हाथों में हाथ थाम के जब साथ हम चले
शाख़ों से फूल टूट के राहों में आ गये
आ : हम जब सिमट के आपकी बाँहों में आ गये
म : लाखों हसीन ख़ाब निगाहों में आ गये
आ : हम जब सिमट के आपकी बाँहों में आ गये

Kaun Aaya Ki Nigahon - Asha Bhosle




कौन आया कि निगाहों में चमक जाग उठी
दिल के सोए हुए तारों में खनक जाग उठी -२
कौन आया
किसके आने की ख़बर ले के हवाएँ आईं -२
जिस्म के फूल चटकने की सदाएँ आईं -२
ओ ओ ओ आ
( रूह खिलने लगी ) -२ साँसों में महक जाग उठी
दिल के सोए हुए ...
किसने ये मेरी तरफ़ देख के बाँहें खोलीं -२
शोख़ जज़्बात ने सीने में निगाहें खोलीं -२
ओ ओ ओ आ
( होंठ तपने लगे ) -२ ज़ुल्फ़ों में लचक जाग उठी
दिल के सोए हुए ...
किसके हाथों ने मेरे हाथों से कुछ माँगा है -२
किसके ख़्वाबों ने मेरी रातों से कुछ माँगा है -२
ओ ओ ओ आ
( साज़ बजने लगे ) -२ आँचल में खनक जाग उठी
दिल के सोए हुए ...

Chanda Re Ja Re - Lata Mangeshkar





चंदा रे जा रे जा रे -२
( चंदा रे जा रे जा रे
पिया से संदेसा मोरा कहियो जा ) -२
मोरा तुम बिन जिया ना लागे रे पिया -२
मोहे इक पल चैन न आये
चंदा रे जा रे जा रे
पिया से संदेसा मोरा कहियो जा
चंदा रे जा रे जा रे
किस के मन में जाये बसे हो -२
हमरे मन में अगन लगाये -२
हमने तोरी याद में बालम
दीप जलाये दीप बुझाये
फिर भी तेरा मन ना पिघला
हमने कितने नीर बहाये
चंदा ... जा रे जा रे
चंदा रे जा रे जा रे
पिया से संदेसा मोरा कहियो जा
चंदा रे जा रे जा रे
घडियां गिन गिन दिन बीतत हैं -२
अंखियों में कट जाये रैना -२
तोरी आस लिये बैठे हैं
हंस्ते नैना रोते नैना -२
हमने तोरी राह में प्रीतम
पग पग पे है नैन बिछाये
चंदा ... जा रे जा रे
चंदा रे जा रे जा रे
पिया से संदेसा मोरा कहियो जा
चंदा रे जा रे जा रे
पिया से संदेसा मोरा कहियो जा
मोरा तुम बिन जिया न लागे रे पिय -२
मोहे एक पल चैन न आये
चंदा रे जा रे जा रे

Diya Jisne Dil - K.L.Saigal, Uma Devi



दिया जिसने दिल -२
लुट गया वो बेचारा -२
दिया जिसने
छोरा दिल
दिया जिसने
ओ बेटा दिल
लुट गया वो बेचारा -२
जिया कौन जिसे नीची नज़रों ने मारा -२
लुट गया वो बेचारा -२
को : दिया जिसने दिल -२
लुट गया वो बेचारा -२
नहीं भूलती वो अदा क्या अदा थी -२
लिपटना तुम्हारा झिझकना तुम्हारा -२
लुट गया वो बेचारा -२
को : जिया कौन जिसे नीची नज़रों ने मारा -२
लुट गया वो बेचारा -२
मेरा आशियाँ फूँक डाला गुलों ने -२
बहारों ने आ कर मेरा घर उजाड़ा -२
लुट गया वो बेचारा -२
को : जिया कौन जिसे नीची नज़रों ने मारा -२
लुट गया वो बेचारा -२
मज़े लूट ले चार दिन चाँदनी है -२
सै को : जवानी को देखा बुढ़ापा पुकारा -२
को : हा हा हा
सै को : लुट गया वो बेचारा
सै : बेटा
सै को : लुट गया वो बेचारा

Diya Jalao (From "Tansen") - K L Saigal





दिन सूना सूरज बिना
और चन्दा बिन रैन
घर सूना दीपक बिना
ज्योति बिन दो नैन
दिया जलाओ
जगमग जगमग दिया जलाओ (२)
दिया जलाओ (४)
जगमग जगमग दिया जलाओ (२)
सरस सुहागन सुनरी (४)
तेरे मन्दिर में देख अंधेरा (२)
रूठ न जाये दिया तेरा (२)
आ~
दिया जलाओ (४)
दिया मनाओ दिया जलाओ
दिया मनाओ मनाओ जलाओ
जगमग जगमग (२)
जगमग जगमग दिया जलाओv

Tadpat Beete Din Rain - Kundan Lal Saigal




तड़पत बीते दिन रैना (२)
निस दिन बिरहा तोरा सतावे (२)
कैसे आवे मोहे चैना
तड़पत बीते दिन रैना
रात कटे गिन गिन के तारे ढूँढत नैना सांझ सखारे (२)
आवो सुनाओ मन के बाती (२)
मधुर मधुर बैना (२)
तड़पत बीते दिन रैना

Hamen Tumse Pyar Kitna (From "Kudrat") - Kishore Kumar





हमें तुम से प्यार कितना, ये हम नहीं जानते
मगर जी नहीं सकते तुम्हारे बिना
हमें तुम से प्यार ...

सुना गम जुदाई का, उठाते हैं लोग
जाने ज़िंदगी कैसे, बिताते हैं लोग
दिन भी यहाँ तो लगे, बरस के समान
हमें इंतज़ार कितना, ये हम नहीं जानते
मगर जी नहीं सकते तुम्हारे बिना
हमें तुम से प्यार ...

तुम्हें कोई और देखे, तो जलता है दिल
बड़ी मुश्किलों से फिर, सम्भलता है दिल
क्या क्या जतन करतें हैं, तुम्हें क्या पता
ये दिल बेक़रार कितना, ये हम नहीं जानते
मगर जी नहीं सकते तुम्हारे बिना
हमें तुम से प्यार ...

Parveen Sultana version

हमें तुम से प्यार कितना, यह हम नहीं जानते
मगर जी नहीं सकते तुम्हारे बिना
हमें तुम से प्यार कितना ..

मैं तो सदा की तुम्हरी दीवानी
भूल गये सैंयाँ प्रीत पुरानी
कदर ना जानी, कदर न जानी
हमें तुम से प्यार कितना ...

कोई जो डारे तुमपे नयनवा
देखा ना जाये मोसे सजनवा
जले मोरा मनवा, जले मोरा मनवा
हमें तुम से प्यार कितना ... 

Kahe Jhum Jhum Raat - Lata Mangeshkar




कहे झूम-झूम रात ये सुहानी
पिया हौले से छेड़ो दुबारा
वही कल की रसीली कहानी
कहे झूम-झूम रात ...
सुन के जिसे दिल मेरा धड़का
लाज के सर से आँचल सरका
रात ने ऐसा जादू फेरा
और ही निकला रंग सहर का
कहे झूम-झूम रात ...
मस्ती भरी ये ख़ामोशी
चुप हूँ खड़ी देखो मैं खोई सी
देख रही हूँ मैं एक सपना
कुछ जागी सी कुछ सोई सी
कहे झूम-झूम रात ...
तन भी तुम्हारा मन भी तुम्हारा
तुमसे ही बालम जग उजियारा
रोम-रोम मेरा आज मनाए
छूटे कभी न साथ तुम्हारा
कहे झूम-झूम रात ...

Haye Re Woh Din Kyun Na Aaye - Ravi Shankar



हाय रे वो दिना क्यों न आये
ज ज के ऋतु
ज ज के ऋतु लौट आये
हाय रे वो दिना क्यों न आये
झिलमिल वो तारे कहाँ गये वो सारे
मन बाती जले बुझ जाये
हये रे वो दिना क्यों न आये
सूनी मेरी बीना संगीत बिना
सपनों की माला मुरझाये
हाय रे वो दिना क्यों न आये

Aate Jate Khoobsurat Awara - Kishore Kumar





आते जाते खूब्सूरत आवारा सड़कों पे
कभी कभी इत्तेफ़ाक़ से
कितने अंजान लोग मिल जाते हैं
उन में से कुछ लोग भूल जाते हैं
कुछ याद रह जाते हैं
आवाज़ की दुनिया के दोस्तों
कल रात इसी जगह पे मुझको
किस क़दर ये हसीं ख़याल मिला है
राह में इक रेशमी रुमाल मिला है
जो गिराया था किसी ने जान कर
जिस का हो ले वो जाये पहचान कर
वरना मैं रख लूँगा उस को अपना जान कर
किसी हुस्न-वाले की निशानी मान कर, निशानी मान कर
हँसते गाते लोगों की बातें ही बातें में
कभी कभी इक मज़ाक से कितने जवान किस्से बन जाते हैं
उन किस्सों में चन्द भूल जाते हैं
चन्द याद रह जाते हैं
उन में से कुछ लोग ...
तक़दीर मुझ पे महरबान है
जिस शोख की ये दास्तान है
उस ने भी शायद ये पैग़ाम सुना हो
मेरे गीतों में अपना नाम सुना हो
दूर बैठी ये राज़ वो जान ले
मेरी आवाज़ को पहचान ले
काश फिर कल रात जैसी बरसात हो
और मेरी उस की कहीं मुलाक़ात हो
लम्बी लम्बी रातों में नींद नहीं जब आती
कभी कभी इस फ़िराक़ से कितने हसीं ख़्वाब बन जाते हैं
उन में से कुछ ख़्वाब भूल जाते हैं
कुछ याद रह जाते हैं
उन में से कुछ लोग ...

Main Ne Yeh Faisla Kar Liya Hai - Laxmikant-Pyarelal & Padmini Kolhapure & Sanjay Dutt & Ashok Kumar & Mohnish Bahl & Supriya Pathak

Found this with Shazam, have a listen…
Main Ne Yeh Faisla Kar Liya Hai
Laxmikant-Pyarelal & Padmini Kolhapure & Sanjay Dutt & Ashok Kumar & Mohnish Bahl & Supriya Pathak
Shazam
Discover, explore and share more music, TV shows and brands you love
Get Shazam now

Mohe Rang Do Laal - Shreya Ghoshal And Pandit Birju Maharaj



Singers: Shreya Ghoshal, Pandit Birju Maharaj
Music: Sanjay Leela Bhansali
Lyrics: Siddharth-Garima
Mohe rang do laal
Mohe rang do laal
Nand ke laal laal
Chhedo nahi bas rang do laal
Mohe rang do laal
Dekhu dekhu tujhko main hoke nihaal
Dekhu dekhu tujhko main hoke nihaal
Chhu lo kora mora kaanch sa tann
Nain bhar kya rahe nihaar
Mohe rang do laal
Nand ke laal laal
Chhedo naahi bas rang do laal
Mohe rang do laal
Marodi kalaai mori
Marodi kalaai mori
Haan kalaai mori
Haan kalaai marodi.. kalaai mori
Churri chatkai ittrai
Toh chori se garwa lagai
Hari ye chunariya
Jo jhatke se chheeni (x2)
Main toh rangi hari hari ke rang
Laaj se gulaabi gaal
Mohe rang do laal
Nand ke laal laal
Chhedo nahi bas rang do laal
Mohe rang do laal
Mohe rang do laal


Read more: http://www.lyricsmint.com/2015/11/mohe-rang-do-laal-bajirao-mastani.html#ixzz454xC4yri

Tu Bhoola Jise - Amaal Mallik, K.K.


Singers: KK, Amaal Maillik
Music: Amaal Mallik
Lyrics: Kumaar

Tu bhoola jise
Tujhko woh yaad karta raha
Tu jeeta raha
Tere liye woh marta raha
Tere dard ki aahat suni
Lo aa gaya, sab chhod ke
Teri raah mein.. lekar khushi..
Woh hai khada har mod pe
Sab chhhod ke
Tu bhoola jise
Tujhko woh yaad karta raha
Teri fikar mein guzarta raha lamha dar lamha
Tere saath duniya thi wo raha tanha ka tanha (x2)
Aansu mile
Dekha tha jo
Palkon ko bhi jodke
Teri raah mein.. lekar khushi..
Woh hai khada har mod pe
Sab chhhod ke
Vande Mataram…
Vande Mataram…
Vande Mataram…

Sanam Re - Mithoon, Arijit Singh



Singer: Arijit Singh
Lyrics: Mithoon
Music: Mithoon

O ho…
Bheegi bheegi sadkon pe main
Tera intezaar karun
Dheere dheere dil ki zameen ko
Tere hi naam karun
Khudko main yoon kho doon
Ke phir na kabhi paaun
Haule haule zindagi ko
Ab tere hawaale karun
Sanam re, sanam re
Tu mera sanam hua re
Sanam re, sanam re
Tu mera sanam hua re
Karam re, karam re
Tera mujhpe karam hua re
Sanam re, sanam re
Tu mera sanam hua re
O ho…
Tere kareeb jo hone laga hoon
To toote saare bharam re
Sanam re, sanam re
Tu mera sanam hua re
Sanam re, sanam re
Tu mera sanam hua re
O ho…
Baadalon ki tarah hi toh
Tune mujhpe saaya kiya hai
Baarishon ki tarah hi toh
Tune khushiyon se bhigaya hai
Aandhiyon ki tarah hi toh
Tune hosh ko udaaya hai
Mera muqaddar sanwara hai yoon
Naya savera jo laaya hai tu
Tere sang hi bitaane hain mujhko
Mere saare janam re
Sanam re, sanam re (sanam re..)
Tu mera sanam hua re
Sanam re, sanam re (sanam re..)
Tu mera sanam hua re
Karam re, karam re (karam re..)
Tera mujhpe karam hua re
Sanam re, sanam re (sanam re..)
Tu mera sanam hua re
O ho…
Mere sanam re mera hua re
Tera karam re mujhpe hua ye (x2)


Read more: http://www.lyricsmint.com/2015/12/sanam-re-arijit-singh.html#ixzz454yksckb

Tuesday, April 5, 2016

bindiya chamakegi



Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image

बिंदिया चमकेगी, चूड़ी खनकेगी -२
तेरी नींद उडे ते उड जाए
कजरा बहकेगा, गजरा महकेगा -२
मोहे रुसदीये ते रुस जाए -२
बिंदिया चमकेगी ...
(मैंने माना हुआ तू दीवाना
ज़ुलम तेरे साथ हुआ) -२
मैं कहाँ ले जाऊँ अपने लौंग का लश्कारा
इस लश्कारे से आके द्वारे से -२
चल मुड़दीये ते मुड जाए
बिंदिया चमकेगी ...
(बोले कंगना किसीका ओ सजना
जवानी पे ज़ोर नहीं) -२
लाख मना करले दुनिया
कहते हैं मेरे घुंगरू
पायल बाजेगी, गोरी नाचेगी -२
छत टुटदीये ते टुट जाए
बिंदिया चमकेगी ...
(मैंने तुझसे मोहब्बत की है
ग़ुलामी नहीं की बलमा) -२
दिल किसी का टूटे
चाहे कोई मुझसे रूठे
मैं तो खेलूँगी, मैं तो छेड़ूँगी -२
यारी टुटदीये ते, टुट जाए
बिंदिया चमकेगी ...
(मेरे आँगन बारात लेके साजन
तू जिस रात आएगा) -२
मैं न बैठूँगी डोली में
कह दूँगी बाबुल से
मैं न जाऊँगी, मैं न जाऊँगी -२
गड्डी टुरदीये ते टुर जाए
बिंदिया चमकेगी ...

kabhi kabhi mere dil me




कभी कभी मेरे दिल में, ख़याल आता है
के जैसे तुझको बनाया गया है मेरे लिये
तू अबसे पहले सितारों में बस रही थी कहीं
तुझे ज़मीं पे बुलाया गया है मेरे लिये
कभी कभी मेरे दिल में, ख़याल आता है
कभी कभी मेरे दिल में, ख़याल आता है
के ये बदन ये निगाहें मेरी अमानत हैं
ये गेसुओं की घनी छाँव हैं मेरी ख़ातिर
ये होंठ और ये बाहें मेरी अमानत हैं
कभी कभी मेरे दिल में, ख़याल आता है
कभी कभी मेरे दिल में, ख़याल आता है
के जैसे तू मुझे चाहेगी उम्र भर यूँही
उठेगी मेरी तरफ़ प्यार की नज़र यूँही
मैं जानता हूँ के तू ग़ैर है मगर यूँही
कभी कभी मेरे दिल में, ख़याल आता है
कभी कभी मेरे दिल में, ख़याल आता है
के जैसे बजती हैं शहनाइयां सी राहों में
सुहाग रात है घूँघट उठा रहा हूँ मैं (२)
सिमट रही है तू शरमा के मेरी बाहों में
कभी कभी मेरे दिल में, ख़याल आता है

kasame vaade



कसमे वादे प्यार वफ़ा सब, बातें हैं बातों का क्या
कोई किसी का नहीं ये झूठे, नाते हैं नातों का क्या
कसमे वादे प्यार वफ़ा सब, बातें हैं बातों का क्या
होगा मसीहा ...
होगा मसीहा सामने तेरे
फिर भी न तू बच पायेगा
तेरा अपनाऽऽऽ आऽऽऽ
तेर अपना खून ही आखिर
तुझको आग लगायेगा
आसमान में ...
आसमान मे उड़ने वाले मिट्टी में मिल जायेगा
कसमे वादे प्यार वफ़ा सब, बातें हैं बातों का क्या
सुख में तेरे ...
सुख में तेरे साथ चलेंगे
दुख में सब मुख मोड़ेंगे
दुनिया वाले ...
दुनिया वाले तेरे बनकर
तेरा ही दिल तोड़ेंगे
देते हैं ...
देते हैं भगवान को धोखा, इनसां को क्या छोड़ेंगे
कसमे वादे प्यार वफ़ा सब, बातें हैं बातों का क्या

phool aahista




फूल आहिस्ता फेंको, फूल बड़े नाज़ुक होते हैं
वैसे भी तो ये बद्-क़िसमत नोक पे कांटों की सोते हैं
फूल आहिस्ता ...
बड़ी खूब्सूरत शिक़ायत है ये
मगर सोचिये क्या शराफ़त है ये
जो औरों का दिल तोड़ते रहते हैं
लगी चोट उनको तो ये कहते हैं
कि फूल आहिस्ता फेंको, फूल बड़े नाज़ुक होते हैं
जो रुलाते हैं लोगों को एक दिन खुद भी रोते हैं
फूल आहिस्ता ...
किसी शोख़ को बाग़ की सैर में
जो लग जाये कांटा कोई पैर में
ख़फ़ा हुस्न वालों से हो किस लिये
ये मासूम है बहकता इस लिये
कि फूल आहिस्ता फेंको, फूल बड़े नाज़ुक होते हैं
ये करेंगे कैसे घायल ये तो खुद घायल होते हैं
फूल आहिस्ता ...
गुलों के बड़े आप हमदर्द हैं
भला क्यों न हो आप भी मर्द हैं
हज़ारों सवाल.ओं का है इक जवाब
फ़रेब-ए-नज़र ये न हो ऐ जनाब
कि फूल आहिस्ता फेंको फूल बड़े नाज़ुक होते हैं
सब जिसे कहते हैं शबनम, फूल के आँसू होते हैं
फूल आहिस्ता ...

मु : महबूब मेरे महबूब मेरे -२
तू है तो दुनिया कितनी हसीं है
जो तू नहीं तो कुछ भी नहीं है
ल : महबूब मेरे महबूब मेरे
तू है तो दुनिया कितनी हसीं है
जो तू नहीं तो कुछ भी नहीं है
महबूब मेरे ...
मु : तू हो तो बढ़ जाती है क़ीमत मौसम की
ये जो तेरी आँखें हैं शोला शबनम सी
यहीं मरना भी है मुझको मुझे जीना भी यहीं है
महबूब मेरे ...
ल : अरमाँ किसको जन्नत की रंगीं गलियों का
मुझको तेरा दामन है बिस्तर कलियों का
जहाँ पर हैं तेरी बाँहें मेरी जन्नत भी वहीं है
महबूब मेरे ...
मु : रख दे मुझको तू अपना दीवाना कर के
ल : नज़दीक आजा फिर देखूँ तुझको जी भर के
मु : मेरे जैसे होंगे लाखों कोई भी तुझसा नहीं है
महबूब मेरे ...
ल : हो महबूब मेरे ...
दो : महबूब मेरे ...

bol gori bol




मु : बोल गोरी बोल तेरा कौन पिया -२
कौन है वो तूने जिसे प्यार किया
बोल गोरी बोल ...
ल : अरे तू जाने ना उसका नाम
हर सुबह हर शाम
दुनिया ने उसी का नाम लिया
बोल तू ही बोल मेरा कौन पिया
मु : बोल गोरी बोल ...
है कौन सारे जग से निराला
को : है कौन सारे जग से निराला
मु : कोई निशानी बतलाओ बाला
ल : उसकी निशानी वो भोला-भाला
को : उसकी निशानी वो भोला-भाला
ल : उसके गले में सर्पों की माला
मु : वो कई हैं जिसके रूप कहीं छाँव कहीं धूप
तेरा साजन है या बहुरूपिया
मु : बोल गोरी बोल ...
ल : मन उसका मंदिर प्राण पुजारी
मु : घोड़ा न हाथी करे बैल सवारी
को : घोड़ा न हाथी करे बैल सवारी
ल : कैलाश परवत का वो तो जोगी
मु : अच्छा वही दर-दर का भिखारी
को : दर-दर का भिखारी
ल : हाँ बो है भिखारी ठीक लेके भक्ति की भीख
बदले में जगत को मोक्ष दिया
बोल तू ही बोल ...
मैं जिसको भाऊँ जो मुझको भाए
इक दोष तो कोई उसमें बताए
मु : तू जिसपे मरती है हाय
वो जटाओं में गंगा बहाए
ल : दो दिन का है साथ युग-युग से मेरी बात
मैं हूँ बाती तू दिया
बोल तू ही बोल ...

Je Hum Tum Chori Se





मु : जे हम-तुम चोरी से बंधे एक डोरी से
जइयो कहाँ ऐ हुज़ूर
ल : अरे ई बंधन है प्यार का
जे हम-तुम चोरी ...
मु : कजरा वाली फिर तू ऐसे काहे निहारे
ई चितवन के गोरी माने तो समझा जा रे
ल : मतलबवा एक है एक है नैनन पुकार का
जे हम-तुम चोरी ...
दो : ऐ हुज़ूर
मु : जे हम-तुम चोरी ...
ल : देखो बादर आए पवन के पुकारे
उल्फ़त मेरी जीती अनाड़ी पिया हारे
मु : आएगा रे मजा रे मजा अब जीत-हार का
दो : जे हम-तुम चोरी ...
मु : घूँघट में से मुखड़ा दीखे अभी अधूरा
आ बैंया में आजा मिलन तो हो पूरा
ल : ई मिलना तो नहीं तो नहीं कुछ एक बार का
जे हम-तुम चोरी ...

woh hai zara khafa khafa




वो हैं ज़रा खफ़ा खफ़ा
तो नैन यूं मिलाए हैं कि हो हो
ना बोल दूं तो क्या करूँ
वो हँस के यूँ बुलाए हैं कि हो हो
हँस रही है चाँदनी
मचल के रो ना दूं कहीं
ऐसे कोई रूठता नहीं
ये तेरा खयाल है
करीब आ मेरे हंसीं
मुझको तुझसे कुछ गिला नहीं
बात यूँ बनाए हैं कि ओ हो ...
वो हैं ...
ऐसे मत सताइये
ज़रा तरस तो खाइये
दिल की धड़कन मत जगाइये
कुछ नहीं कहूंगा मैं
ना अँखियां झुकाइये
सर को कन्धे से उठाइये
ऐसे नींद आए है कि हम ...
वो हैं ...

Ye zulf kaisi hai





र : ये ज़ुल्फ़ कैसी है ज़ंजीर जैसी है
वो कैसी होगी जिसकी तस्वीर ऐसी है
ल : ये आँख कैसी है तीर जैसी है
वो कैसा होगा जिसकी तस्वीर ऐसी है
र : तुम तो मुझे पसंद हो क्या मैं तुम्हें पसंद हूँ
क्या तुम रज़ामंद हो मैं तो रज़ामंद हूँ
बोलो चुप क्यों हो
ल : मैं तुमसे क्या बोलूँ तक़दीर कैसी है
वो कैसा होगा ...
घूँघट निकाल के पिया बैठूँगी मैं तो आज से
देखो न इस तरह मुझे मर जाऊँगी मैं लाज से
र : ये ख़्वाब कैसा है ताबीर कैसी है
वो कैसी होगी ...

wo jab yaad aaye




वो जब याद आए बहुत याद आए
ग़म-ए-ज़िंदगी के अंधेरे में हमने
चिराग-ए-मुहब्बत जलाए बुझाए
आहटें जाग उठीं रास्ते हंस दिये
थामकर दिल उठे हम किसी के लिये
कई बार ऐसा भी धोखा हुआ है
चले आ रहे हैं वो नज़रें झुकाए
दिल सुलगने लगा अश्क़ बहने लगे
जाने क्या-क्या हमें लोग कहने लगे
मगर रोते-रोते हंसी आ गई है
ख़यालों में आके वो जब मुस्कुराए
वो जुदा क्या हुए ज़िंदगी खो गई
शम्मा जलती रही रोशनी खो गई
बहुत कोशिशें कीं मगर दिल न बहला
कई साज़ छेड़े कई गीत गाए

Itna To Yaad Hai Mujhe





इतना तो याद है मुझे, ओ, इतना तो याद है मुझे, हाय,
इतना तो याद है मुझे के उनसे मुलाक़ात हुई
बाद में जाने क्या हुआ, ना जाने क्या बात हुई
सारे वफ़ा के कर्ज़ अपने चुकाके
किसी से दिल लगाके चला आया
नज़रें मिलाके, नीँद अपनी गँवाके
कसक दिल में बसाके चला आया
दिन तो गुज़र जायेगा, क्या होगा जब रात हुई
इतना तो याद है मुझे ...
मारे हया के, मैं तो आँखेन झुकाके
ज़रा दामन बचाके चली आयी
पर्दा हटाके उनकी बातों में आके
उन्हें सूरत दिखाके चली आयी
किस से शिक़ायत करूँ, शरारत मेरे साथ हुई
इतना तो याद है मुझे ...
थी इक कहानी पहले ये ज़िंदगानी
तुम्हें देखा तो जीना मुझे आया
दिल्बर-ओ-जानी, शर्म से पानी पानी
हुई मैं बस पसीना मुझे आया
ऐसे मैं भीग गयी जैसे के बरसात हुई
इतना तो याद है मुझे ...

Chala Bhi AA Aaja Rasiya (Original) - Mohd Rafi & Lata Mangeshkar



ल : चला भी आ आजा रसिया
ओ जाने वाले आ जा तेरी याद सताए
ख़्वाबों का घरौंदा कहीं टूट न जाए
चला भी आ ...
मुरझा चले हैं अरमान सारे
धुँधला गए हैं सभी उजले नज़ारे
जीऊँगी मैं कैसे ग़मों के सहारे
तरसी निगाहें मेरी तुझको सदा दें तुझको पुकारें
चला भी आ आजा रसिया
बैठी हूँ मैं कब से तेरी आस लगाए
ओ जाने वाले ...
इतना बता जा तेरे दिल में क्या है
आ के बता जा मेरी क्या ख़ता है
इस ज़िन्दगी का तू ही आसरा है
क्या वो ख़ता है जिसपे ख़फ़ा है जिसकी सज़ा है
दिल तो गया मेरा कहीं जान न जाए
जाने वाले ...
र : मेरी लगन को कहाँ तूने जाना
तेरे लिए तो मेरा दिल है दीवाना
हर साँस मेरी तेरा ही तराना
ये ज़िन्दगानी क्या है तेरी कहानी है तेरा ही फ़साना
तेरा मेरा वो है रिश्ता
के टूटें जो बलाएँ तो भी टूट न पाए
दो : टूटें जो बलाएँ तो भी टूट न पाए -२

AA Mere Humjoli-Lata & Rafi - Lata Mangeshkar



र : आ मेरे हमजोली आ खेलें आँख मिचौली आ
गलियों में चौबारों में बाग़ों में बहारों में हो
मैं ढूँढूँ तू छुप जा
ल : आ मेरे हमजोली ...
मैं आऊँ
र : न न
ल : मैं आऊँ
र : न न न
ल : मैं आऊँ
र : ना
ल : मैं आऊँ
र : आ जा
ल : पीपल के ऊपर जा बैठा छिप के मेरा साथी
धक से लेकिन धड़क गया दिल गिर गई हाथ से लाठी
ओ पकड़ा गया
girls: ओ पकड़ा गया
र : मैं आऊँ
ल : न न
र : मैं आऊँ
ल : न न न
र : मैं आऊँ
ल : ना
र : मैं आऊँ
ल : आ जा
र : पनघट के पीछे जा बैठी छिप के मेरी सजनिया
छन से लेकिन अनजाने में छनक गई पैंजनिया
ओ पकड़ी गई
boys: ओ पकड़ी गई
को : आ मेरे हमजोली ...
मैं आऊँ
र : न न
ल : मैं आऊँ
र : न न न
ल : मैं आऊँ
र : ना
ल : मैं आऊँ
र : आ जा
ल : ओ मेरे नयनों से तू छिप सकता है ओ मेरे रसिया
लेकिन मेरे मन से छिपना मुश्क़िल है मनबसिया
ऐ पकड़ा गया
girls: ओ पकड़ा गया
र : मैं आऊँ
ल : न न
र : मैं आऊँ
ल : न न न
र : मैं आऊँ
ल : ना
र : मैं आऊँ
ल : आ जा
र : काहे लुक-छुप के खेल में छेड़े तू प्रेम की बतियाँ
देख तमाशा देख रही हैं सारे शहर की अँखियाँ
ओ पकड़ी गई
boys: ओ पकड़ी गई
को : आ मेरे हमजोली ...

Aan Milo Sajna (Revival) - Lata Mangeshkar & Mohd Rafi





रंग रंग के फूल खिले हैं
मोहे भाये कोई रंग ना
अब आन मिलो सजना
दीपक संग पतंगा नाचे
कोई मेरे संग ना
अब आन मिलो सजना ...
सजना सजना सजना सजना ...
ढूँधते तोहे तारो के छँव में
कितने काँटे चुभे मेरे पाँव में
तूने सूरत दिखायी न ज़ालिमा
परदेसी हुआ रह के गाँव में
ओ~
ओय शाबा शाबा
प्रीत मीत बिन सूना सूना
लागे मोरा अँगना
ओ अब आन मिलो सजना ...
आयी बाग़ों में फूलो की सवारियाँ
मेले की हो गयी सब तैय्यारियाँ
तेरा मेरा मिलन कब होगा
मिली प्रीतम से सब पनहारियाँ
ओ~
ओय शाबा शाबा
दूर दूर रह के जीने से
मैं आ जाऊँ तंग ना
ओ अब आन मिलो सजना ...
कैसे पूछूँ मैं प्रेम की पहेलियाँ
संग होती हैं तेरी सहेलियाँ
वे चन्ना किस दम किया ये सहेलियाँ
मेरिया राता ने गिनिया अकेलियाँ
ओ~
ओ शाबा शाबा
रात रात भर नींद न आये
खन-खन खनके कँगना
ओ अब आन मिलो सजना ...

Aya Sawan Jhoom Ke - Lata Mangeshkar & Mohd Rafi






र : बदरा हो बदरा छाए कि झूले पड़ गए हाय
कि मेले लग गए मच गई धूम रे
कि आया सावन हो झूम के
ल : बदरा हो बदरा छाए कि झूमे पर्वत हाय
रे कजरारी बदरिया को चूम रे
कि आया सावन हो झूम के कि आया सावन झूम के
काहे सामने सबके बालमवा तू छेड़े जालमवा
र : काहे फेंके नज़र की डोरी तू लुक-छुप के गोरी
ल : कजरा हो कजरा हाय रे बैरी बिखरा जाए रे
मेरा कजरा कि मच गई धूम रे
कि आया सावन झूम ...
र : जाने किसको किसकी याद आई के चली पुरवाई
ल : जाने किस बिरहन का मन तरसा के पानी बरसा
र : कंगना हो कंगना लाए कि घर लौट के आए
परदेसी बिदेसवा से घूम के
कि आया सावन ...
ल : तेरे सेहरे की हैं ये लड़ियाँ कि सावन की झड़ियाँ
र : ये हैं मस्त घटाओँ की टोली कि तेरी है डोली
ल : धड़का जाए धड़का जाए रे मेरा मनवा हाय
साजनवा कि मच गई धूम रे
को : कि आया सावन ...

aaj kahin na ja




ल: कहीं न जा, आज कहीं मत जा
(फिर मिले ना मिले
ये पल ये शमा बाहों मे आजा
कहीं न जा आज कहीं मत जा - २)
ल: (ये जो बस में कदम नहीं तेरे
मैं संवारूंगी दुआ संग तेरे
तेरे दिल की मंज़िल है यहाँ - २)
कि: जाने वफ़ा, सच है किसको पता
फिर मिले ना मिले
ये पल ये शमा बाहों में आ जा
(मेरी राहों का दिया तेरी आँखें
मेरे गम की दवा तेरी बातें
तो फिर और जाना है कहाँ - २)
ल: कहीं न जा, आज कहीं मत जा ...
उलझन तेरी मैं सब जानूं
तुझे तेरी तरह पहचानूं
जो मैं हूँ तो ग़म क्यों जानेजां
कि: हो जब दिल हुआ जब तेरा दीवाना
ठोकर में है सारा ज़माना
मेरा क्या करेगा ये जहाँ
जाने वफ़ा सच है किसको पता
फिर मिले ना मिले, बाहों में आ जा
ल: कहीं न जा, आज कहीं मत जा ...

yaad kiya dil ne




याद किया दिल ने कहाँ हो तुम
झूमती बहार है कहाँ हो तुम
प्यार से पुकार लो जहाँ हो तुम - २
(ओ, खो गये हो आज किस खयाल में
ओ, दिल फ़ंसा है बेबसी के जाल में ) - २
मतलबी जहाँ मेहरबां हो तुम
याद किया दिल ने कहाँ हो तुम
प्यार से पुकार लो जहाँ हो तुम - २
(ओ, रात ढल चुकी है सुबह हो गयी
ओ, मै तुम्हारी याद लेके खो गयी ) - २
अब तो मेरी दास्ताँ हो तुम
याद किया दिल ने कहाँ हो तुम
प्यार से पुकार लो जहाँ हो तुम - २
(ओ, तुम तो मेरे ज़िंदगी के बाग़ हो
ओ, तुम तो मेरी राह के चिराग़ हो ) - २
मेरे लिये आसमाँ हो तुम
याद किया दिल ने कहाँ हो तुम
प्यार से पुकार लो जहाँ हो तुम - २

chhupaa lo yu dil





छुपा लो यूँ दिल में प्यार मेरा
के जैसे मंदिर में लौ दिये की
तुम अपने चरणों में रख लो मुझको
तुम्हारे चरणों का फूल हूँ मैं
मैं सर झुकाए खड़ी हूँ प्रियतम - २
के जैसे मंदिर में लौ दिये की
ये सच है जीना था पाप तुम बिन
ये पाप मैने किया है अब तक
मगर है मन में छवि तुम्हारी - २
के जैसे मंदिर में लौ दिये की
फिर आग बिरहा की मत लगाना
के जलके मैं राख हो चुकी हूँ
ये राख माथे पे मैने रख ली - २
के जैसे मंदिर में लौ दिये की

ye dil aur unaki nigaaho ke saaye





ये दिल और उनकी, निगाहों के साये - (३)
मुझे घेर लेते, हैं बाहों के साये - (२)
पहाड़ों को चंचल, किरन चूमती है - (२)
हवा हर नदी का बदन चूमती है - (२)
यहाँ से वहाँ तक, हैं चाहों के साये - (२)
ये दिल और उनकी निगाहों के साये ...
लिपटते ये पेड़ों से, बादल घनेरे - (२)
ये पल पल उजाले, ये पल पल अंधेरे - (२)
बहुत ठंडे ठंडे, हैं राहों के साये - (२)
ये दिल और उनकी निगाहों के साये ...
धड़कते हैं दिल कितनी, आज़ादियों से - (२)
बहुत मिलते जुलते, हैं इन वादियों से - (२)
मुहब्बत की रंगीं पनाहों के साये - (२)
ये दिल और उनकी निगाहों के साये ...

aa neele gagan tale pyaar






आ नीले गगन तले प्यार हम करें
हिल मिल के प्यार का इक़रार हम करें
आ नीले ...
ये शाम की बेला ये मधुर मस्त नज़ारे
बैठे रहें हम यूँहीं बाहों के सहारे
वो दिन ना आए इन्तज़ार हम करें
आ नीले गगन ...
दो जां हैं हम ऐसे मिले एक ही हो जाएं
ढूँढा करे दुनिया हमें हम प्यार में खो जाएं
बेचैन बहारों को गुलज़ार हम करें
आ नीले गगन तले ...
तू माँग का सिन्दूर तू आँखों का है काजल
ले बांध ले हाथों के किनारे से ये आँचल
सामने बैठे रहो श्रृंगार हम करें
आ नीले गगन तले ...

Hui shaam unakaa khayaal aa gayaa




हुई शाम उन का ख़याल आ गया
वही ज़िंदगी का सवाल आ गया
अभी तक तो होंठों पे था तबस्सुम का एक सिलसिला
बहुत शादमां थे हम उनको भुलाकर
अचानक ये क्या हो गया
कि चेहरे पे रंग-ए-मलाल आ गया ...
हमें तो यही था गुरूर गम-ए-यार है हम से दूर
वही ग़म जिसे हमने किस-किस जतन से
निकाला था इस दिल से दूर
वो चलकर क़यामात की चाल आ गया ...

Monday, April 4, 2016

Bhoola Nahin Dena (From "Baradari") - Lata Mangeshkar & Mohammed Rafi


Piya Piya Piya - Asha Bhosle


Aaj Rapat Jaayen To (From "Namak Halaal") - Kishore Kumar & Asha Bhosle


Saagar Kinare (FROM "SAAGAR") - Lata Mangeshkar, Kishore Kumar


Do jasoos


Dariya Kinare Ek Bungla - Basu Manohari


Ham Bane Tum Bane - Laxmikant Pyarelal



O Maria - Asha Bhosle


Teri Bindiya Re (From "Abhimaan") - Lata Mangeshkar


Le Gayi Dil (Revival) - Shankar-Jaikishan & Joy Mukherjee & Asha Parekh & Mahmood & Shubha Khote & Pran & Master Shahid


Koi Humdum Na Raha - Kishore Kumar


Koi Hota Jisko Apna - Kishore Kumar


Roz Roz Aankhon Tale - Asha Boshle & Amit Kumar

Tu Hi Re (BOMBAY) - Hariharan, Kavita Krishnamurthy

Found this with Shazam, have a listen…
Tu Hi Re (BOMBAY)
Hariharan, Kavita Krishnamurthy
Shazam
Discover, explore and share more music, TV shows and brands you love
Get Shazam now